राजस्थान में औद्योगिक विकास एवं पूंजी निवेश का उपयुक्त वातावरण -मुख्यमंत्री श्री गहलोत




चितौड़गढ़ - 23 सितम्बर- मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने कहा कि राजस्थान के विभिन्न क्षेत्रों में उपलब्ध विपुल खनिज भण्डारों एवं आधारभूत सुविधाओं की दृष्टि से औद्योगिक विकास और पूंजी निवेश के लिए उपयुक्त वातावरण उपलब्ध है जिसके फलस्वरूप देश विदेश की विभिन्न कम्पनियां एवं उद्यमी राज्य के विभिन्न क्षेत्रों में अरबों रूपये का निवेश कर उद्योग स्थापित कर रहे हैं, जिससे राजस्थान में रोजगार के अवसर बढ़ने के साथ साथ प्रदेश के विकास को नई गति मिली है। मुख्यमंत्री श्री गहलोत गुरूवार को जिले की निम्बाहेड़ा तहसील के भावलिया ग्राम में लाफार्ज सीमेन्ट संयंत्रा स्थापना के लिए भूमि पूजन एवं शिलान्यास करने के बाद आयोजित समारोह को मुख्य अतिथि के रूप में सम्बोधित कर रहे थे। उन्होने कहा कि राजस्थान में बिजली उत्पादन के विशेष प्रयास किये जा रहे हैं तथा इस वित्तीय वर्ष के बजट की 52 प्रतिशत राशि केवल विद्युत उत्पादन पर व्यय की जा रही है वहीं राज्य में अच्छी सड़कों का जाल बिछा है जिससे आवागमन एवं यातायात की सुविधाएं मिल रही है। उन्होने कहा कि राज्य में औद्योगिक उत्पादन के लिए नीमराणा, भिवाड़ी, जयपुर सहित अन्य स्थानों पर देश विदेश की विभिन्न कम्पनियां पूंजी निवेश कर उद्योग स्थापित कर रही है। मुख्यमंत्री ने राजस्थान का उज्जवल भविष्य बताते हुए कहा कि प्रदेश में बड़े उद्योग स्थापित होने के साथ साथ बाड़मेर जिले में पेट्रोलियम निकला है जो देश के कुल उत्पादन का 30 प्रतिशत होगा, जिससे प्रदेशवसियों को रोजगार के अवसर मिलेगें वहीं राजस्व की प्राप्ति होने से राज्य के चहुंमुखी विकास और अधिक तेजी से हो सकेगा। उन्होने कहा कि राज्य की नई औद्योगिक नीति के तहत एकल खिड़की योजना अधिनियम बना कर उद्यमियों को हर तरह की सुविधाएं मुहैया कराने का राज्य सरकार स्तर पर प्रयास किया जाएगा। उन्होने कहा कि सरकार नई श्रम नीति बना रही है जिसके अन्तर्गत श्रमिकों की न्यूनतम मजदूरी में बढ़ोतरी करने का भी प्रयास किया जाएगा। उन्होने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा दिल्ली से मुम्बई तक मालगाड़ियों के लिए अतिरिक्त रेल्वे लाईन डाली जा रही है जिसका 40 प्रतिशत हिस्सा राजस्थान से होकर गुजरेगा। इस क्षेत्रा की रेल्वे लाइन के दोनों और 150-150 किलोमीटर की दूरी पर औद्योगिक जोन विकसित किये जाएगें। उन्होने कहा कि राज्य सरकार द्वारा सीमेन्ट उद्योग को नकारात्मक सूची से निकाल कर सकारात्मक सूची में जोड़ कर सुविधाएं उपलब्ध कराने का निर्णय लिया गया है जिससे राज्य में सीमेन्ट उद्योग के 7-8 संयंत्रा और स्थापित हो सकेगें। उन्होने बड़े उद्योगों का आव्हान किया कि वे अपने सामाजिक दायित्वों के प्रति सजग रहें । उन्होने लाफार्ज सीमेन्ट संयंत्रा की स्थापना से पूर्व ही इस कम्पनी द्वारा सामाजिक सरोकार के कार्य हेतु सहयोग करने का आभार व्यक्त किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार किसानों के हितों के लिए कृतसंकल्पित है तथा राज्य सरकार ऐसी नीति बना रही है कि औद्योगिक स्थापना के लिए जिन किसानों की भूमि अधिगृहित की जाए उन किसानों से उद्य़मी बातचीत कर उनकी भूमि का उन्हैं पूरा मुआवजा दें। उन्होने कहा कि राज्य सरकार पांव वर्ष तक कृषि विद्युत की दरें नही बढ़ाएगी वहींे 25 लाख लधु एवं सीमान्त किसानों को 5 हजार करोड़ ृ का अल्पअवधि ऋण सुलभ कराया जा रहा है। उन्होने कहा कि राज्य में किसानों के लिए मौसम आधारित फसल बीमा योजना लागू की जा रही है जिससे प्रत्येक किसान को इसका लाभ मिल सकेगा। उन्होने कहा कि राज्य सरकार ने 36 लाख बी.पी.एल. परिवारों को 2 ृ प्रति किलो गेहूं उचित मूल्य दुकानों के माध्यम से उपलब्ध कराने की महत्ती योजना हाथ में ली है। इसके अलावा जिला मुख्यालयों पर उचित मूल्य दुकानों के माध्यम से उपभोक्ताओं को आटा एवं दाल भी निर्धारित दर पर उपलब्ध कराई जा रही है। उन्होने कहा कि महानरेगा राष्ट्रीय योजना विश्व की सबसे बड़ी योजना है जिसके माध्यम से प्रत्येक जरूरत व्यक्ति को 100 दिन का रोजगार उपलब्ध कराया जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री गहलोत ने कहा कि देश एवं प्रदेश में वासुदेव कुटुम्ब की प्राचीन संस्कृति के अनुरूप विभिन्न जाति, धर्म, भाषा, सम्प्रदाय के लोग रहते हैं लेकिन उनमें आपसी पे्रम, भाईचारा और सौहार्द होने से देश की एकता और अखण्डता अक्ष्युण्य है तथा ऐसी मिसाल विश्व के किसी अन्य देश में नही है। उन्होने प्रदेशवासियों से अपील की कि वे राजस्थान की आपसी भाईचारा, पे्रम एवं सौहार्द और आपस में मिल कर रहने की हमारी वर्षो पुरानी परम्परा को कायम रखें और किसी भी तरह की अफवाह पर ध्यान नही दें। समारोह में मुख्यमंत्री को लाफार्ज कम्पनी के सह-पे्रसीसडेंट इसिडोरो मिरांडा एवं उदय खन्ना ने मुख्यमंत्री सहायता कोष के लिए एक करोड़ रू0 की राशि का चेक भेंट किया। मुख्यमंत्री ने समारोह स्थल पर अशोक का पौधा भी रोपित किया। समारोह की अध्यक्षता करते हुए उद्योग मंत्री राजेन्द्र पारीक ने कहा कि मुख्यमंत्री के प्रयासों से राजस्थान में औद्योगिक विकास का नया वातावरण बना है जिसके फलस्वरूप देश विदेश की बहुराष्ट्रीय कम्पनियां सीमेन्ट उद्योग सहित अन्य उद्योगों में पूंजी निवेश में गहरी रूची ले रही है। उन्होने कहा कि मुख्यमंत्री श्री गहलोत राजस्थान को विद्युत उत्पादन के क्षेत्रो में आत्मनिर्भर बनाने का पुरजोर प्रयास कर रहेै। उन्होने कहा कि प्रथम चरण में राज्य में 4 हजार मेगावाट विद्युत उत्पादन का प्रयास किया जा रहा है। उन्होने कहा कि यहां आने वाले हर उद्यमी को उद्योग स्थापना के लिए हर संभव सुविधाएं मुहैया कराने के लिए तत्परता से प्रयास किये जा रहे है। उन्होने कहा कि राज्य में नये उद्योगों की स्थापना से यहां के लोगों को रोजगार के अवसर मिलेगें । समारोह में राष्ट्रीय महिला की आयोग की अध्यक्ष एवं क्षेत्रीय सांसद डा. गिरिजा व्यास ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री गहलोत के आर्थिक विकासों के प्रयास से विकास की ग्रोथ 6 प्रतिशत से बढ़कर 8-9 प्रतिशत तक पहुंच गई है । उन्होने कहा कि औद्योगिक इकाईयां निजी क्षेत्रा में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है और लाफार्ज के इस सीमेन्ट संयंत्रा की स्थापना के बाद देश की 20 प्रतिशत सीमेन्ट की आपूर्ति राजस्थान से हो सकेगी। उन्होने कहा कि इस संयंत्रा की स्थापना से स्थानीय लोगों को रोजगार की सुविधा मिल सकेगी। उन्होने कहा कि औद्योगिक क्रान्ति के साथ साथ उद्यमियों को चाहिए कि वे अपने सामाजिक सरोकार के तहत शिक्षा, स्वास्थ्य, पेयजल तथा विशेषकर महिला विकास पर विशेष ध्यान देना चाहिए। समारोह में खान, वन एवं पर्यावरण राज्य मंत्री रामलाल जाट ने कहा कि मुख्यमंत्री के निर्देशों के अनुरूप लाफार्ज कम्पनी ने संयंत्रा स्थापना से पूर्व यहां के 70-80 युवाओं को योग्यता के अनुरूप तकनिकी प्रशिक्षण देने का अनुकरणीय कार्य किया है ताकि उन्हैं स्थानीय स्तर पर रोजगार सुलभ हो सके। उन्होने उद्यमियों का आव्हान किया कि वे औद्योगिक स्थापना के साथ साथ पर्यावरण संरक्षण के लिए अधिकाधिक पौधा रोपण करें। समारोह में निम्बाहेड़ा विधायक उदयलाल आंजना ने क्षेत्रावासियों की और से मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए कहा कि निम्बाहेड़ा एवं छोटीसादड़ी की पेयजल समस्या के निराकरण एवं किसानों के हितों को दृष्टिगत रखते हुए मनोहरखेड़ी बांध, हमेर बांध एवं रेणकानाका बांध बनाने एवं क्षेत्रा में एक 220 के.वी. तथा 130 के.वी. के दो विद्युत ग्रिड सबस्टेशन स्थापित करवाने का मुख्यमंत्री से आग्रह किया। समारोह के प्रारंभ में लाफार्ज के सह-पे्रसीसडेंट इसिडोरो मिरांडा ने अतिथियों का स्वागत किया तथा समारोह के अन्त में उदय खन्ना ने आगन्तुक एवं अतिथियों का आभार व्यक्त किया। समारोह में विधायक सुरेन्द्र सिंह जाड़ावत, प्रकाश चैधरी, शंकरलाल बैरवा, नगराज, उद्योग विभाग के प्रमुख शासन सचिव सुनील अरोड़ा, खनिज विभाग के शासन सचिव डा. गोविन्द शर्मा, संभागीय आयुक्त अर्पण अरोड़ा, पुलिस महानिरीक्षक टी.एल. मीणा, जिला कलेक्टर डा. आरूषी ए. मलिक, पुलिस अधीक्षक डा. गिर्राज मीणा, निम्बाहेड़ा प्रधान गोपाल आंजना, पूर्व विधायक कालूराम खटीक सहित अन्य जनप्रतिनिधि, अतिरिक्त कलेक्टर अवधेशसिंह, खीवांराम, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मनोज चैधरी, उपखण्ड अधिकारी कमलेश आबूसरिया, वृत्ताधिकारी विजय स्वर्णकार, अन्य अधिकारी, मीडियाकर्मी एवं गणमान्य व्यक्ति आदि उपस्थित थे।
मुख्यमंत्री का हेलीपेड पर गरमजोशी से स्वागत
चितौड़गढ़ मे प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के गुरूवार को जिले की निम्बाहेड़ा तहसील के भावलिया ग्राम में हेलीकोप्टर से हेलीपेड पहुंचने पर जनप्रतिनधियों एवं अधिकारियों ने गरमजोशी से स्वागत कर अगवानी की। मुख्यमंत्री श्री गहलोत के हेलीपेड पर पहुंचने पर उद्योग मंत्री राजेन्द्र पारीक, खान, वन एवं पर्यावरण मंत्राी रामलाल जाट, निम्बाहेड़ा विधायक उदयलाल आंजना, बड़ीसादड़ी विधायक प्रकाश चैधरी, कपासन विधायक शंकर बैरवा, धरियावद विधायक नगराज एवं पूर्व विधायक कालूलाल खटीक सहित अन्य जनप्रतिनिधियों ने माल्यार्पण कर गरमजोशी से स्वागत किया वहीं संभागीय आयुक्त अर्पणा अरोड़ा, पुलिस महानिरीक्षक टी.एल. मीणा, अतिरिक्त कलेक्टर अवधेश सिंह, खीवांराम, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मनोज चैधरी सहित अन्य अधिकारियों ने अगवानी की तथा यहां पर लाफार्ज कम्पनी के सह-पे्रसीसडेंट इसिडोरो मिरांडा एवं उदय खन्ना ने भी बुके भेट कर मुख्यमंत्री का स्वागत किया। उनके साथ वन एवं पर्यावरण राज्य मंत्री रामलाल जाट, राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष एवं क्षेत्रीय सांसद डा. गिरिजा व्यास भी भावलिया पहुंची।
मुख्यमंत्री का हमीरगढ़ हवाई पट्टी पहुंचने पर स्वागत
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के गुरूवार को जिले की एक दिवसीय यात्रा पर हमीरगढ़ हवाई पट्टी पर राजकीय वायुयान से पहुंचने पर विधायक सुरेन्द्र सिंह जाड़ावत, प्रदीप कुमार सिंह, कैलाश त्रिवेदी, पूर्व विधायक धनश्याम जैन, उप जिला प्रमुख जनक सिंह सहित अन्य जनप्रतिनिधि,अजमेर संभाग के पुलिस महानिरीक्षक राजेश निर्वाण, चितौड़गढ़ की जिला कलेक्टर डा. आरूषी ए. मलिक, पुलिस अधीक्षक डा. गिर्राज मीणा, भीलवाड़ा की जिला कलेक्टर मंजू राजपाल, पुलिस अधीक्षक उमेश चन्द्र दत्त सहित अन्य अधिकारियों ने उनका आत्मिक स्वागत किया।
मुख्यमंत्री को भावभीनी विदाई
प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को गुरूवार को जिले की निम्बाहेड़ा तहसील के भावलिया ग्राम से रवाना होने से पूर्व हेलीपेड पर निम्बाहेड़ा विधायक उदयलाल आंजना, बड़ीसादड़ी विधायक प्रकाश चैधरी, कपासन विधायक शंकर बैरवा, धरियावद विधायक नगराज सहित अन्य जनप्रतिनधियों, उद्योग विभाग के प्रमुख शासन सचिव सुनील अरोड़ा, खनिज विभाग के शासन सचिव डा. गोविन्द गुप्ता, संभागीय आयुक्त अर्पणा अरोड़ा, पुलिस महानिरीक्षक टी.एल. मीणा, जिला कलेक्टर डा. आरूषी ए. मलिक, पुलिस अधीक्षक डा. गिर्राज मीणा, अतिरिक्त कलेक्टर अवधेश सिंह, खीवांराम, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मनोज चैधरी सहित अन्य अधिकारियों एवं मीडियाकर्मियों ने भावभीनी विदाई दी। यहां पर हेरीटेज पे्रसक्लब के संरक्षक मनोहर अग्रवाल ने इस यात्राा का फोटो एलबम भेंट किया। मुख्यमंत्री के साथ राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष एवं क्षेत्रीय सांसद डा. गिरिजा व्यास, उद्योग मंत्री राजेन्द्र पारीक एवं खान, वन एवं पर्यावरण राज्य मंत्री रामलाल जाट भी हेलीकॉप्टर से प्रस्थान कर गये।
Share on Google Plus

About Eye Tech News

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.
    Blogger Comment
    Facebook Comment