युवा पीढ़ी तकनिकी शिक्षा लेकर स्वरोजगार प्राप्त करें -तकनिकी शिक्षा मंत्री

चितौड़गढ़, 20 अक्टूबर- राज्य के जनजाति क्षेत्रीय विकास एवं तकनिकी शिक्षा मंत्री महेन्द्रजीत सिंह मालवीया ने युवा पीढ़ी को आव्हान किया कि वे वर्तमान विज्ञान एवं कम्प्यूटर के युग में तकनिकी शिक्षा लेकर रोजगार एवं स्वरोजगार प्राप्त करें ताकि हमारा मुल्क और अधिक तेजी से तरक्की कर सके। तकनिकी शिक्षा मंत्री श्री मालवीया बुधवार को डूंगला में उपखण्ड भवन कार्यालय भवन का शिलान्यास एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में नवनिर्मित पुरूष वार्ड व आवासीय भवन परिसरं का लोकार्पण करने के पश्चात् आयोजित समारोहों को मुख्य अतिथि के रूप में सम्बोधित कर रहे थे। उन्होने कहा कि हमारे देश ने विज्ञान एवं कम्प्यूटर के क्षेत्रा में काफी तरक्की की है। उन्होने कहा कि करीब 15-20 वर्ष पूर्व मोबाइल के बारे में कोई व्यक्ति जानता नही था किन्तु अब मोबाइल गांव ढाणियों, खेत खलिहान तक पहुंच गया है तथा वर्तमान में हर एक क्षेत्र में कार्य करने वाले अधिकांश व्यक्ति मोबाइल का उपयोग कर रहे हैं, इसी तरह अनेक क्षेत्रों में विज्ञान एवं तकनिकी में बहुआयामी प्रगति हुई है, जिससे रोजगार एवं स्वरोजगार के अवसर बढ़े है। इसलिए प्रत्येक बालक बालिका को तकनिकी शिक्षा प्राप्त करने की महत्वपूर्ण आवश्यकता है। उन्होने कहा कि राज्य सरकार देश के पूर्व प्रधानमंत्री स्व0 राजीव गांधी के सपने को साकार करने की दृष्टि से प्रत्येक पंचायत समिति एवं ग्राम पंचायत मुख्यालय पर राजीव गांधी सेवा केन्द्र स्थापित कर रही है जिससे ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को स्थानीय स्तर पर ही इन्टरनेट के माध्यम से विभिन्न सेवाएं एवं महत्वपूर्ण सूचनाएं प्राप्त हो सकेगी। उन्होने कहा कि राज्य सरकार प्रयास कर रही है कि जो सुविधाएं महानगरों में रहने वाले नागरिकों को मिल रही है उसी के अनुरूप नगरों एवं छोटे कस्बों तथा गांवों में रहने वाले लोगों को भी आधुनिक सुविधाएं मिले, इस दिशा में सरकार वृहद स्तर पर प्रयास कर रही है। उन्होने कहा कि मुख्यमंत्री ने ग्रामीणों की सुविधा को दृष्टिगत रखते हुए डूंगला सहित विभिन्न तहसील मुख्यालयों को उपखण्ड मुख्यालय में क्रमोन्नत कर वहां उपखण्ड अधिकारी के पद सृजित कर दिये गये हैं, जिससे आमजन के कार्य स्थानीय स्तर पर ही निष्पादित हो सकेगें। उन्होने कहा कि डूंगला क्षेत्रवासियों एवं किसानों के लिए यहां का उपखण्ड कार्यालय मील का पत्थर साबित होगा। उन्होने कहा कि यहां उपखण्ड कार्यालय खुलने से किसानों की समस्याओं का तत्परता से निराकरण हो सकेगा। समारोह की अध्यक्षता करते हुए क्षेत्रीय विधायक प्रकाश चैधरी ने कहा कि डूंगला क्षेत्रावासियों के लिए आज का दिन बहुत ही महत्वपूर्ण है कि उनकी वर्षो पुरानी उपखण्ड कार्यालय की मांग को मूर्तरूप दिया गया है। उन्होने कहा कि यहां उपखण्ड कार्यालय बनने से उपखण्ड अधिकारीकी नियुक्ति हो चुकी है तथा आज उपखण्ड कार्यालय भवन का शिलान्यास भी हो गया है । उन्होने कहा कि उपखण्ड कार्यालय भवन बनने पर काश्तकारों एवं जनसाधारण के कार्यो का सुचारू रूप से समय पर निष्पादन हो सकेगा तथा उन्हैं अपने छोटे छोटे कार्यो के लिए बड़ीसादड़ी नही जाना पड़ेगा। उन्होने इस कार्यालय परिसर में ट्यूबवेल एवं विद्युत मोटर लगाने की भी घोषणा की। क्षेत्रीय विधायक श्री चैधरी ने कहा कि वे बड़ीसादड़ी क्षेत्रा के विकास के लिए कटिबद्व हैं तथा विकास कार्य में धन की कमी नही आने दी जाएगी। उन्होने कहा कि 250 से अधिक आबादी वाले गांव जो सड़को से जुड़ने से शेष हैं उन्हैं शीध्रता से सड़कों से जोड़ा जाएगा। उन्होने कहा कि मंगलवाड़ से डूंगला बड़ीसादड़ी होते हुए नीमच तक की सड़क को आगामी समय में शीध्रता से चैड़ा करने का कार्य प्रारंभ किया जाएगा जिससे ग्रामीणों को आवागमन की सुगम सुविधा मिल सकेगी। समारोह को विशिष्ठ अतिथि के रूप में सम्बोधित करते हुए जिला कलेक्टर डा. आरूषी ए. मलिक ने कहा कि नवम्बर माह से राज्य सरकार के निर्देशानुसार जिले में ‘प्रशासन गांवों की ओर अभियान ‘ चलाया जाएगा जिसमें खातेदारी अधिकार देने, सीमा ज्ञान कराने, रास्तों सम्बन्धी समस्याओं का निराकरण करने सहित राजस्व सम्बन्धी विभिन्न प्रकरणों का मौके पर ही निस्तारण किया जाएगा। उन्होने जनप्रतिनिधियों से आग्रह किया कि वे सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की पालनहार योजना के तहत विधवा महिलाओं के पात्रा बच्चों को इस योजना के तहत चयनित करवाएं। उन्होने कहा कि पालनहार योजना के तहत विधवा महिला के चयनित पात्रा बच्चों को प्रति वर्ष 10 हजार रू0 की सहायता देने का प्रावधान है। उन्होने सरपंचों से अनुरोध किया कि राष्ट्रीय गौरव ग्राम पंचायत योजना के तहत अपनी ग्राम पंचायतं में निर्धारित मानदण्डानुरूप कार्यो को मूतरूप देकर इस योजना के अन्तर्गत चयन करवाएं । उन्होने कहा कि इस योजना के तहत चयनित होने वाली पंचायत को 5 लाख रू0 की राशि पुरस्कार स्वरूप प्राप्त हो सकेगी। समारोह को विशिष्ठ अतिथि के रूप में पूर्व प्रधान सूरजमल पाटीदार ने भी सम्बोधित किया। समारोह में जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी बी.एस. गर्ग, उपखण्ड अधिकारी भवानी सिंह पंवार, उप पुलिस अधीक्षक सत्यनारायण सहित अन्य अधिकारी, सरपंच, पंचायत समिति सदस्यों सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं बड़ी संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित थे। जनजाति क्षेत्रीय विकास मंत्री ने श्रीसांवलियाजी के दर्शन किये जनजाति क्षेत्रीय विकास मंत्री महेन्द्रजीत सिंह मालवीया ने मण्डफिया स्थित मेवाड़ के प्रसिद्व कृष्णधाम श्रीसांवलियाजी के दर्शन कर पूजा अर्चना की तथा प्रदेश में खुशहाली एवं अमनचेन की कामना की। जनजाति क्षेत्राीय विकास मंत्राी ने अक्षरधाम की तर्ज पर बन रहे श्रीसांवलियाजी के मन्दिर का अवलोकन किया तथा मन्दिर की स्थापत्य कला की सराहना की। श्री मालवीया के मन्दिर अवलोकन के दौरान मन्दिर मण्डल के अध्यक्ष कन्हैयादास वैष्णव ने मन्दिर निर्माण के सम्बन्ध में विस्तार से जानकारी दी तथा जनजाति क्षेत्रीय विकास मंत्री श्री मालवीया का अध्यक्ष श्री वैष्णव ने उपरना ओढ़ा कर स्वागत किया। इस अवसर पर भेरूलाल गुर्जर, मनोहरलाल जैन, आजाद हुसेन आदि थे।
Share on Google Plus

About Eye Tech News

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.
    Blogger Comment
    Facebook Comment