अज्ञात अभियुक्तों द्वारा टेक्सी किराये पर लेकर टेक्सी चालक की हत्या का प्रकरण दर्ज

चित्तौड़गढ़ - भदेसर थाना क्षेत्र में दिनांक 18.01.2011 को दिन 12.30 बजे 04 अज्ञात व्यक्ति जिन्होंने अपने आपको मध्यप्रदेश के निवासी होना बताया टेक्सी चालक अनवर हुसैन पिता मोहम्मद कासम नि. देहलीगेट, चित्तौड़गढ़ से टेक्सी नम्बर आरजे-09-सीए-4164 को घुमने के उद्देष्य से किराये पर ली। आज प्रातः थानाधिकारी भदेसर को सूचना मिली कि एक व्यक्ति की लाश पारलिया जाने वाले रोड के किनारे खड्डे में पडी है। इस पर थानाधिकारी मय जाब्ता मौके पर पहुंचे। वहां पर एक व्यक्ति की लाश खड्डे में खून से लथपथ गर्दन धारदार हथियार से रेती हुई पडी मिली। सूचना तत्काल जिला पुलिस अधीक्षक श्री विकास कुमार को मिलने पर घटना की गंभीरता को देखते हुए जिला मुख्यालय से अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, पुलिस उप अधीक्षक एससी/एसटी प्रकोष्ठ, वृताधिकारी बडीसादडी, एफएसएल टीम, डोग स्क्वाड को मौके पर भेजा गया। इसी दौरान मृतक के भाई शहीद पिता मोहम्मद कासम ने मृतक को अपने बडे भाई श्री अनवर पिता मोहम्मद कासम नि. देहली गेट चित्तौड़गढ़ की होना शिनाख्त किया। अज्ञात अभियुक्तों द्वारा मृतक का कार, चैन, अंगुठी एवं मोबाईल भी लेकर फरार हो जाना पाया गया है। लाश का पोस्टमार्टम करवाया जाकर लाश वारिशान को सुपुर्द की गई। अज्ञात अभियुक्तों एवं वाहन की तलाश की जा रही है।
पहले भी हुई थी वारदात
चित्तौडगढ। चित्तौडगढ जिले में एक से सवा माह में हुई लूट की तीनों वारदातों में आरोपियों की संख्या चार ही थी और उनके मध्यप्रदेश के होने की बात सामने आई।
गत वर्ष दिसम्बर व इस वर्ष जनवरी में कार लूट के तीन मामले सामने आए है। पहली वारदात भादसोडा थाना क्षेत्र में हुई। जिसमें रतलाम से चार व्यक्ति सांवलियाजी दर्शन के लिए कार किराए पर लेकर आए और यहां चालक को कमरे में बंद कर कार लूट ली। दूसरा मामला इस वारदात के कुछ दिन बाद गंगरार थाने में दर्ज हुआ।
चालक व खलासी को सोनियाना फाटक से आगे जंगल में बंधक बना कर चार व्यक्ति कार लूट ले गए। दोनों ही मामलों में लूट के आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हो पाई है। मंगलवार रात चालक की हत्या कर कार लूट के मामले को भी पुलिस इन मामलों से जोडकर देख रही है।
तीन वारदातए अरोपी चार चित्तौडगढ जिले में हुई तीनों वारदात में काफी समानताएं सामने आई है। तीनों ही वारदात में आरोपियों की संख्या चार रही और मध्यप्रदेश के होने की जानकारी सामने आई। गंगरार में बंधक बनाकर लूट के मामले में पुलिस की ओर से आरोपियों का स्केच भी जारी किए गए थे।
Share on Google Plus

About Eye Tech News

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.
    Blogger Comment
    Facebook Comment