प्रेम प्रसंग के चलते पत्नी ने रचि पति को मरवाने की साजिश, अभियुक्त गिरफ्तार, पत्नि को भेजा नारी निकेतन

चित्तौड़गढ़ जिला कपासन में दिनंाक 1.8.11 को विष्णु माली अपनी पत्नी ममता (काल्पनिक नाम) को साईकिल से घर से कपासन बालिका विद्यालय छोड़ कर वापस जाने लगा कि स्कुल के बाहर श्री विनोद हरिजन और उसके साथी दिपकसिह ने प्रार्थी से बात करने के बाहाने मोटरसाईकिल हीरो होण्डा नम्बर आर.जे. 09 एस.एफ. 4494 पर बिठा कर गोरा जी का निम्बाहेडा के आगे शराब के ठेके के सामने एक खण्डर मे ले गये और उनके पास कल्च वायर था जिससे गले में बांध कर खिचने लगे प्रार्थी के चिल्लाने पर पास मे खेतों में काम करने वाले लोग दौड़कर आये तो ये लोग मोटरसाईकिल लेकर चितौडगढ की तरफ भाग गये। इस घटना की सूचना जिला पुलिस अधीक्षक, चित्तौड़गढ़ एवं पुलिस नियंत्रण कक्ष को मिलने पर पूरे जिले में नाकाबंदी करवाई गई एवं थानाधिकारी कपासन को फरार अभियुक्तों की शीघ्र तलाश एवं गिरफ्तारी के निर्देश दिये। इस पर थाना कपासन पर प्रकरण दर्ज कर थानाधिकारी कपासन श्री लाभूराम एवं जाब्ता द्वारा त्वरित कार्यवाही करते हुऐ अभियुक्त दिपकसिह पिता लक्ष्मणसिह राजपुत नि0 कुम्भानगर चितौड़गढ़ व विनोद पिता बंषीलाल हरिजन नि0 भीमगढ हाल चितौड़गढ सर्किट हाउस चितौड़गढ़ को मय मोटर साईकिल के सिहपुर के आस पास तलाष कर गिरफ्तार किया गया। अभियुक्त श्री विनोद हरिजन व प्रार्थी की पत्नी ममता की कॉल डिटेल निकलवा कर अवलोकन किया गया तो विनोद हरिजन व ममता के बीच कई बार बातचित होती रहती थी एवं श्रीमति ममता व विनोद के पूछताछ से सामने आया कि श्रीमति ममता व विनोद के पिता सर्किट हाउस चितौड़ में नौकरी करते है जहां दोनांे के परिवार पास पास मे रहते थे। वहां विनोद व ममता के आपस मे प्रेम सम्बन्ध हो गये। इस साल ममता को पढने के लिये कपासन स्कुल में भर्ती करवाई जो कपासन ही पढ रही है। कृष्णा को विनोद ने मोबाईल भी दे रखा था जिस पर ममता चोरी छुपे विनोद से बाते करती थी। जिसकी जानकारी ससुराल वालो को नही थी। घटना के एक दिन पहले ममता के पति विष्णु ने ममता को मोबाईल पर बाते करते देखा लिया इससे ममता ने सोचा उसका पति दुसरों को भी इस घटना की जानकारी दे देगा। इस पर ममता ने विनोंद से दिनंाक 31.7.11 को यह बात मोबाईल पर बताई कि तु मेरे पती को ठिकाने लगा देना बाद मे मै निपट लुंगी। यह भी कहा की सुबह 7 बजे में मेरे पति को स्कुल लेकर आउगी तथा चितौड़ रोड़ पर खड़ी रहंुगी मै बता दुंगी कि ये उसका पति है। इस वारदात को अजाम देने के लिये विनोद षाम को ही एक दुकान से कल्च वायर लाया व दिपकसिह की मोटर साईकिल लेकर कपासन पहंुचे। जहां ममता अपने पति को अभियुक्तों को बता कर चली गई। इस पर विनोद व दिपकसिह ने विष्णु का मोटर साईकिल पर बिठा कर अपहरण कर क्लच वायर को गले मे डाल कर मारने का प्रयास किया। क्लच वायर व मोटर साईकिल को बरामद किया गया। श्रीमति ममता का उक्त घटना करने के लिये षडयन्त्र व सहयोग करने पर डिटेन कर तफ्तीश की गई मोबाईल के बारे मे पुछताछ की तो मोबाईल बाद घटना नहर के पानी मे फैक देना बताया जिसकी सुचना पर मोबाईल की तलाश की तो नही मिला। ममता को बाल न्यायालय चितौड़गढ़ पेश की जहां से उसे नारी निकेतन भेजने को आदेश होने से उदयपुर भेजी गई। अभियुक्तों पुलिस अभिरक्षा में होकर पूछताछ जारी है।
Share on Google Plus

About Eye Tech News

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.
    Blogger Comment
    Facebook Comment