हिन्दुस्तान ज़िंक ने दिया सरकार को ४०० करोड रु. का एडवान्स टेक्स

१५ दिसम्बर, २०११ हिन्दुस्तान ज़िंक ने वर्ष २०१२-१३ एसैसमेंट इयर ;(Assessment Year) में भारत सरकार को तीसरी किस्त में ४०० करोड रु. का एडवान्स टेक्स दिया है। यह एडवान्स टेक्स पिछले वर्ष की समान अवधि की तुलना में ७५ करोड रु. अधिक है। पिछले वर्ष इसी अवधि के लिए हिन्दुस्तान जिंक ने ३२५ करोड रु. एडवान्स टेक्स दिया था। हिन्दुस्तान जिंक २०१२-१३ के लिए अब तक १०२५ करोड एडवान्स टेक्स के रूप में दे चुका है।
एडवान्स टेक्स में बढ ओतारी उत्पादन में वृद्धि एवं कार्यकुशलता में निपुणता के परिणामस्वरूप है।
हिन्दुस्तान जिंक ने वर्ष २००२ में विनिवेद्गा के पश्चात राजस्थान में १२००० करोड रु। का निवेशकर तीन बड ी विस्तार परियोजनाओं की सफलतापूर्वक स्थापना की है। वर्ष २००२ में हिन्दुस्तान जिंक की धातु उत्पादन क्षमता लगभग २ लाख टन था जो आज बढ कर लगभग १० लाख टन से अधिक हो गया है। कंपनी की दरीबा इकाई में १००,००० टन प्रतिवर्ष सीसा स्मेल्टर परियोजना में सफलतापूर्वक उत्पादन प्रारंभ हो गया है।
कंपनी प्रतिवर्ष ५०० टन चाँदी उत्पादन करने के लक्ष्य को प्राप्त करने की ओर अग्रसर है तथा लक्ष्य को प्राप्त करते ही हम दुनिया में सबसे बड े चाँदी उत्पादकों में गिने जाएंगे। कंपनी ने उत्तराखंण्ड राज्य के पंतनगर में ३५० टन वार्षिक उत्पादन क्षमता की सिल्वर रिफाईनरी की सफलतापूर्वक स्थापना कर ली है तथा पंतनगर में स्थापित सिल्वर रिफाईनरी में रॉ मैटेरियल की आपूर्ति के लिए सिंदेसर खुर्द खदान तथा कंपनी की अन्य खानों व प्रशवकों की उपलब्धता में पर्याप्त सुधार किया जा रहा है ।
पवन कौशिक
Share on Google Plus

About Eye Tech News

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.
    Blogger Comment
    Facebook Comment