सतरंगी यादों के साथ चित्तौड़गढ़ आर्ट फेस्टिवल का समापन

चितौड़गढ़ कस्बे में चित्रकारों और विद्यार्थियों की रूचि के लिहाज से आयोजित नौ दिवसीय चित्तौड़गढ़ आर्ट फेस्टिवल तीन जनवरी की शाम समाप्त हो गय...
Read More

वास्तुशास्त्र एवं आवास

जीवन के है बस तीन निशान रोटी, कपड़ा और मकान यानि की जीवन की मूलभूत आवश्यकताओं में मकान 33 प्रतिशत पर काबिज है। आदि मानव के सतत् सक्रिय म...
Read More

युवाओं की हिस्सेदारी आशा जगाती है-व्यास चित्तौड़गढ़ आर्ट फेस्टिवल में आर्ट केम्प का समापन

चित्तौड़गढ़ आर्ट फेस्टिवल की सभी गतिविधियों में युवा पीढ़ी की हिस्सेदारी देखकर अनुभव होता है कि आज के इस दौर में सबकुछ खत्म नहीं हुआ है ।  ...
Read More

अभिव्यक्ति का बेहतर माध्यम है चित्रकारी-राणावत

घनश्याम सिंह राणावत ने किया आर्ट केम्प का उदघाटन चित्तौड़गढ़ आर्ट सोसायटी और पुरातत्व एवं संग्रहालय विभाग की संयुक्त प्रस्तुति आर्ट फेस्ट...
Read More