सूर्य की प्रचण्ड गर्मी पर आस्था रही भारी: विशाल आध्यात्मिक कल्याण पदयात्रा श्रृद्धा और उत्साह के साथ सम्पन्न

चित्तौड़गढ़ 24 मई/ दशम् कल्याण महाकुम्भ के उपलक्ष्य में ज्येष्ठ शुक्ला शष्ठी आज वेद पीठ से दुर्ग स्थित कल्ला जी की छतरी तक विशाल आध्यात्मिक जन जागरण कल्याण पदयात्रा रविवार को श्रृद्धा और उत्साह के साथ सम्पन्न हो गई। सूर्य की प्रचण्ड गर्मी के बावजूद पदयात्रियों में अपने आराध्य के प्रति दृढ आस्था के फलस्वरूप हजारों लोगों ने लगभग 35 किलोमीटर की यात्रा के बाद भी ठाकुर श्री के दर्शन कर स्वंय को धन्य महसूस किया। पदयात्रा के लिये प्रातः 4 बजे वेदपीठ से प्रस्थान करने के
दुर्ग राज का चरण पूजन
निर्धारित कार्यक्रम के बावजूद कई श्रृद्धालु मध्य रात्रि में ही प्रस्थान कर प्रातः 6.30 बजे की चित्तौड़गढ़़ पहुंच गये जबकि पदयात्रियों का अंतिम जत्था उस समय मांगरोल में था। पदयात्रा में कल्याण नगरी, आस पास के कई गांवो तथा दूरदराज के कल्याण भक्तों के साथ ही मार्ग के लगभग सभी गांवों से हजारों पदयात्री शामिल हुए। जिनके नेहरू गार्डन पहुचंने पर
अल्पाहार के पश्चात यहां से बैंड बाजों, ढोल नंगाड़ो, डी जे साउण्ड के साथ शोभायात्रा रवाना हुई जो रेल्वे आॅवर ब्रिज, कलेक्ट्रेट चैराहा, रोड़वेज बस स्टैण्ड, सुभाष चैक, गोल प्याउ, सदर बाजार, मिठाई बाजार, पाडनपोल होते हुए दुर्ग मार्ग स्थित ठाकुर श्री कल्लाजी की छतरी पर दर्शन के साथ ही सम्पन्न हो गई।
वेदपीठ के ओर से आयोजित पदयात्रा में भाग लेने वाले श्रृद्धालुओं द्वारा विश्व प्रसिद्ध ऐतिहासिक चित्तौड़गढ़़ दुर्ग के प्रथम प्रवेश द्वार पाडनपोल पर दुर्ग राज के चरण पूजन कर मेवाड़ की आन बान और शान के लिए प्राण न्यौछावर करने वाले वीर एवं वीरांगनाओं को वैदिक मंत्रोच्चार के साथ पुष्पांजली अर्पित की गई, इस दौरान ठाकुर श्री कल्लाजी के गगन भेदी उद्घोष से समूचा वातावरण कल्याणमय हो गया।

मार्ग में जगह-जगह हुआ स्वागत
वेदपीठ के प्रवक्ता ने बताया कि वेदपीठ से लेकर जे के चैराहा, वेल्कम बोर्ड, वंडर सीमेंट, लक्ष्मीपुरा, मांगरोल, भावलिया, रावलिया, सतखण्डा, शम्भुपुरा में महेश्वरी समाज, श्याम रंगिला बजरंग मित्र मण्डल, हनुमान मंदिर समिति, अरनिया पंथ में पूर्व उपजिला प्रमुख मिट्ठूलाल जाट, रतनलाल शर्मा, भैरूलाल जाट, जालमपुरा मंे नगजीराम जाट व अन्य गा्रमीणों के साथ ही सांसद सी पी जोशी, विधायक श्री चंद कृपलानी, ओछड़ी सरपंच दिग्विजय सिंह (टमजी), अम्बामाता सेवा समिति, छपनिया भैरू समिति, पूर्व सांसद उदयलाल आंजना, अधिवक्ता कमलेश, पूर्व पालिकाध्यक्ष महेश ईनाणी, कोठारी परिवार, बैरागी परिवार, भाटिया एण्ड कम्पनी, कृषि उपज मण्डी समिति के अलावा रेल्वे स्टेशन, नेहरू उद्यान तक विभिन्न धार्मिक एंव सामाजिक संगठनों द्वारा पदयात्रियों का स्वागत एंव ठाकुर जी अगवानी की गई। नेहरू उद्यान से मार्ग में अभिभाषक संघ, राजस्थान ब्राह्मण महासभा, गुर्जर गोड़ ब्राह्मण महासभा, भगवान लाल तड़बा, शशी रंजन तिवारी, कृष्ण गोपाल सोनी, नगर परिषद सभापति सुशील शर्मा, उपसभापति भरत जोगेटिया, महेश्वरी नवयुवक मण्डल, राजस्थान पेंशनर समाज, वरिष्ठ नागरिक मंच, दरगाह कमेटी की ओर से अधिवक्ता दोलत अली, ईनायत अली, अमानत अली, सहित विभिन्न धार्मिक एंव सामाजिक संगठनों द्वारा पदयात्रियों के स्वागत सत्कार की तैयारियां की गई है। शोभायात्रा में ठाकुर जी का सुज्जित रथ, मालवीय ढोल, बैंड, डी जे साउण्ड, वीर एंव वीरांगना वाहिनी के बालक-बालिकाएं, कृष्णा शक्ति दल की माता बहने, रेबारी समाज के श्रृद्धालु नर-नारी, वेदपीठ के बटुक आचार्य एंव बड़ी संख्या में दूर-दूर से आये कल्याण भक्त शामिल हुए।
ठाकुर पूजा
वेदपीठ की ओर से दुर्ग मार्ग स्थित कल्लाजी एंव जयमल जी की छतरी पर वैदिक मंत्रोच्चार के साथ विशेष पूजा अर्चना की गई। इससे पूर्व रात भर ठाकुर श्री कल्लाजी का महारूद्राभिषेक किया गया वहीं पदयात्रियों के साथ आये ठाकुर जी के रथ की महंत प्रेम शंकर शर्मा, पूजारी सत्यनारायण वैष्णव एंव सैकड़ो कल्याण भक्तों ने रथ में विराजित ठाकुर जी के जल विग्रह का पूजा की। मार्ग में काली कल्याण धाम के महंत शांतिलाल शर्मा एंव उनके सहयोगियों द्वारा भी पदयात्रियों का स्वागत करते हुए ठाकुर जी के रथ की पूजा अर्चना की गई।
प्रथम बार
आध्यात्मिक कल्याण पदयात्रा के दौरान प्रथम बार  प्रचण्ड गर्मी को देखते हुए ईनाणी ग्रुप द्वारा नेहरू गार्डन से लेकर पाडन पोल तक सड़़क पर पानी का छिड़काव कराया गया वहीं काजी चल फिर शाह दरगाह के बाहर दरगाह कमेटी की ओर से तथा तैलिक साहू समाज द्वारा पदयात्रियों एंव रथ की अगवानी की व्यवस्था की गई। दूसरी ओर पाडन पोल पर चरण पूजन के दौरान बड़ी संख्या मंे आये देशी विदेशी पर्यटकों ने भी इस दृश्य को देखकर कैमरे में कैद करते हुए कहा कि उन्होंने प्रथम बार देश की आन-बान और शान के लिये प्राण न्यौछावर करने वाले रण बाकुरों को पुष्पांजलि का यह आयोजन देखा है।
Share on Google Plus

About Eye Tech News

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.
    Blogger Comment
    Facebook Comment