पेंशनर्स समाज के पथ प्रदर्शक के रूप में मार्गदर्शन करें - आक्या

चित्तौड़गढ़ विधायक चन्द्रभानसिंह आक्या ने पेंशनर्स समाज से आग्रह किया कि वे समाज के पथ प्रदर्शक के रूप में मार्गदर्शन करते हुए न केवल उनकी समस्याओं वरन् क्षेत्र की समस्याओं से भी समय-समय पर अवगत कराते हुए सुझाव दे ताकि उनके अनुसरण में क्षेत्र और जिले का सर्वांगीण विकास हो सके।
आक्या गुरूवार को द्वारिकाधाम में राजस्थान पेंशनर्स समाज के 38वें जिला अधिवेशन में मुख्य अतिथि के रूप में सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने 38वें पेंशनर्स दिवस पर स्वयं को बुर्जुगों का बेटा स्वीकार करते हुए अपनी और से आतिथ्य का आमंत्रण दिया वहीं जिले के समस्त जन प्रतिनिधियों की और से भी अधिवेशन की सफलता और पेंशनर्स के स्वस्थ एवं दीर्घायु होने की कामना की। उन्होंने कहा कि पेंशनर्स समाज की किसी भी प्रकार की कोई समस्या हो तो वे उन्हें अवगत करावे ताकि स्थानीय एवं राज्य स्तर पर उनका समय पर निस्तारण कराया जा सके। 
अधिवेशन की अध्यक्षता प्रतापगढ़ पेंशनर्स समाज जिलाध्यक्ष कृष्णचन्द पंचोली ने करते हुए प्रतापगढ़ जिले में पेंशनर्स द्वारा चलाये जा रहे पर्यावरण अभियान एवं समाज सेवा के अन्य कार्यो से अवगत कराया। विशिष्ट अतिथि के रूप में बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष डाॅ. सुशील लड्ढ़ा में अधिवेशन में पेंशनर्स की उपस्थिति को उनकी सक्रियता एवं आनन्द का प्रतीक बताते हुए कहा कि पेंशनर्स समाज एक बड़ा संगठन है जो गाँव-गाँव में रहकर समाज के कल्याण के साथ-साथ सरकार की कई योजनाओं के बेहतर क्रियान्यवन में भागीदार बन सकते है। उन्होंने बाल कल्याण अधिनियम की विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि विगत ढ़ाई वर्ष में नाबालिग बालिकाओं के साथ हुए अत्याचारो में 27 प्रकरणों का समझाईश के साथ निस्तारण किया गया है वहीं घर से भागने वाले बालक-बालिकाओं को संरक्षण एवं आर्थिक सहायता दी जा रही है। 
डाॅ. भगवतसिंह तंवर ने कहा कि यह अधिवेशन पेंशनर्स को उत्साहित करने वाला है तथापि बुर्जुगों को अपने क्षेत्र में श्रमदान व स्वच्छता में अच्छे प्रेरक की भूमिका निभानी चाहिए वहीं जल एवं पर्यावरण संरक्षण में भी योगदान करना चाहिए।
पूर्व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक देवीलाल चावत ने कहा कि जीवन में सफलता के लिए तकदीर, तदबीर एवं तकनीक की आवश्यकता है वहीं प्रत्येक व्यक्ति को काम दाम और नाम से समाज में उल्लेखनीय प्रयास करने चाहिए उन्होंने कहा कि आने वाली पीढ़ी बुर्जुगों की संगति करे तो बुर्जुगों की एक-एक जुर्री से उन्हें हजार अनुभव मिल सकते है। वहीं कांपते हाथ, हिलती गर्दन और मुर्झाया हुआ चेहरा देखकर उगते सूरज के साथ ढ़लते सूर्य की अनुभूति से वे जीवन में बहुत कुछ कर पायेगें। 
पूर्व मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुनील कुमार झां ने पेेंशनर्स को जीवन में स्वस्थ एवं प्रसन्न रहने की सलाह देते हुए कहा कि हमें विश्व प्रसिद्ध ऐतिहासिक चित्तौड़गढ़ दुर्ग तथा यहां के इतिहास से प्रेरणा लेकर समाज को नई दिशा देनी चाहिए। प्रारंभ में जिलाध्यक्ष लक्ष्मीनारायण दशोरा ने अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि ईश्वर पेंशनर्स समाज द्वारा नई परम्परा शुरू कर तन-मन-धन समर्पण कर मूल्यांकन करते हुए पेंशनर्स रत्न एवं पेंशनर्स गौरव के रूप में सम्मानित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में चित्तौड़गढ़ जिला ही ऐसा है जहां कार्यदिवसों में पूरे समय में पेंशनर्स की सेवा के लिए कार्यालय खुला रहता है। 
उपाध्यक्ष बंसतीलाल जैन ने आंगन्तुको का स्वागत करते हुए पेंशनर्स का आव्हान किया है कि वे युवाओं का मार्गदर्शन कर उनका जीवन संवारे वहीं त्याग और सेवा भाव से अपने जीवन को आनन्दमयी बनाए। 
जिला मंत्री पन्नालाल मेहता ने प्रतिवेदन प्रस्तुत करते हुए अवगत कराया कि 17 दिसम्बर, 1982 को सर्वोच्च न्यायालय के पेंशनर्स के हक में दिये गये फैसले के अनुरूप तब से अब तक इसी दिन पेंशनर्स दिवस मनाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि पेंशनर्स समाज अपनी समस्याओं के समाधान के साथ-साथ सामाजिक सरोकार के लिए भी समर्पित भाव से प्रयासरत है। उन्होंने बताया कि पेंशनर्स की 25 सूत्री मांगो के निराकरण के लिए राज्य स्तर पर प्रयास किये जा रहे है। अधिवेशन का संचालन गिरीराज प्रसाद शर्मा ने किया। प्रारंभ में अतिथियों ने सरस्वती की छवि पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्जवनल कर अधिवेशन का विधिवत शुभारंभ किया। अधिवेशन में विशिष्ट अतिथि के रूप में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजन दुष्यंत, भाजपा नगर महामंत्री सागर सोनी, पूर्व अतिरिक्त कलेक्टर देवीलाल आमेरिया मौजूद थे। अधिवेशन में अतिथियों के द्वारा भामाशाह के रूप में सत्यनारायण झंवर व रामप्रसाद काबरा, समस्त उपशाखा अध्यक्षों, 80 वर्ष से अधिक आयु के 161 पेंशनर्स के साथ ही स्टेट बैंक आॅॅफ बीकानेर के मुख्य शाखा प्रबन्धक डी.के. कोहली, सहायक पं्रबन्धक रामेश्वर पंचोली, बैंक कर्मी मीनाक्षी एवं मधु, राज्य स्तर पर सम्मानित रामनिवास गाजरे एवं चन्द्रप्रकाश, पेंशनर्स रत्न के रूप में भंवरलाल गादिया, रामप्रसाद काबरा, स्व. गोवर्धनलाल लड्ढ़ा, स्व. भगवतीलाल रांका, पेंशनर्स गौरव सम्मान से चन्द्रकिशोर व्यास, सागरमल जैन, नारायणलाल दाधीच, संतोषसिंह सिसोदिया को मेवाड़ी परम्परा से माल्यार्पण कर पगड़ी पहनाकर व शाल ओढ़ाकर स्मृति चिन्ह के साथ सम्मानित किया वहीं जिलाध्यक्ष लक्ष्मीनारायण दशोरा का पेेंशनर्स समाज की और से सार्वजनिक अभिनन्दन किया गया। दो सत्रों में पहले अधिवेशन में बनवारी दत्त जोशी ने सम्मानित पेंशनर्स की और से पेंशनर्स समाज का आभार प्रकट करते हुए सभी पेंशनर्स को शतायु होने की कामना करते हुए बड़े भाई के रूप में स्वस्थ प्रसन्न रहकर साथियों के बीच रहते हुए परिवार व समाज में समन्वय बनाये रखने की अपील की। अधिवेशन में जिले के सभी उपशाखा क्षेत्रों से बड़ी संख्या में पेंशनर्स मौजूद थे। 
Share on Google Plus

About Eye Tech News

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.
    Blogger Comment
    Facebook Comment