वन विभाग की नयी वेबसाईट लॉन्च

जयपुर, 28 अप्रेल। वन विभाग कि नयी वेबसाईट लॉन्च कर दी गयी है। यह वेब Forest.rajasthan.gov.in के नाम से जानी जायेगी ।  इसके अलावा मोबाईल एप की डिबाईस भी अति शीघ्र लोन्च हो जायेगी । इस वेब पर वन एवं वन्य जीव की पूर्ण जानकारी अपडेट कर दी गयी है ।  यह जानकारी वन एवं पर्यावरण राज्य मंत्री श्री राजकुमार रिणवा ने अरण्य भवन स्थित सभा कक्ष में आयोजित एक समीक्षात्मक बैठक में दी। उन्होने बताया की वन विभाग की पुरानी वेबसाईट अति शीघ्र बन्द कर दी जायेगी । बैटक में अतिरिक्त मुख्य सचिव वन श्री एन.सी.गोयल, प्रधान मुख्य वन सरंक्षक ऑफ डॉ एस.एस. चौधरी सहित कई अधिकारी मोजूद थे।       वन मंत्री ने समीक्षात्मक बैठक में बताया कि रणथम्भोर, सरिस्का एवं जवाई लियोपहाड कनजर्वेशन रिजर्व में बसे गावं में रहने वाले 11834 परिवार जनो को गेस कनेक्शन जारी करवा दिये गये है। उन्होने बताया की अब जो गेस कनेक्शन जारी किये जायेगे उन्हे शत प्रतिशत  अनुदान राशि दी जायेगी । श्री रिणवा ने बैठक में बताया कि वन विभाग द्वारा वनों कि देख रेख एवं संरक्षण हेतु वर्क फोर्स की कमी को देखतें हुये वन विभाग में 500 वन रक्षको के नवीन पदो का सृजन किया जायेगा । उन्होने ने पुर्व 1800 वन रक्षकों एवं 238 वनपालों कि भर्ती प्रकिया के सम्बन्ध में जानकारी दी की भर्ती प्रकिया पूर्ण हो गयी हैं तथा चयनित अभ्याथिर्यो को नियुक्तिया दी जा रही है। नवनियुक्त वन
रक्षकों एवं वनपालों के प्रशिक्षण के बारे में वन मंत्री ने बताया की नव चयनित वन कर्मियो का प्रशिक्षण राज्य के पुलिस ट्रेनिग सेन्टरो पर दिलवाया जायेगा । अन्य योजना के चर्चा में श्री रिणवा ने बताया कि जयपुर पुस्कर बाईपास के मुख्य मार्ग पर 20 हैेक्टयर में हर्बल गार्डन तथा वन खण्ड नौलखा (झालावाड) में स्मृृति वन विकसित किया जायेगा। उन्होन बताया कि इन योजनाओं में 200 रनिंग मीटर बाउन्ड्रीबाल तथा 4800 मीटर का भ्रमण पथ पुर्ण हो गया है। इसके अलावा इनमें 2000 पोधारोपण व 3 हटो का निर्माण कार्य भी पूर्ण हो गया है। मुख्यमंत्री जल स्वालम्बन योजना की चर्चा पर वन मंत्री ने बताया की राज्य के 17 जिलो में वन क्षेत्रो में, वन्य जीव क्षेत्रों तथा गेर वानिकी क्षेत्रों में जल ग्रहण की क्षमता बढाने के लिये कार्य किया जा रहा है ताकि जल ग्रहण की क्षमता बडे और वन क्षेत्रों में विचरित करने वाले वन्य जीवों की प्यास मिट सके । रणथम्भोर टाइगर प्रोजक्ट की सुरक्षा हेतु वन मंत्री ने बताया कि स्पेशल टाईगर प्रोटैक्शन फोर्स  का गठन कर दिया गया है यह फोर्स रणथम्भोर,सरिस्का एवं मुकन्दरा हिल्स टाईगर रिजर्व के लिये गठित की गयी है। उन्होने बताया की इस फोर्स के लिये शीघ्र भर्ती की जायेगी । भर्ती केवल उन प्रोजेक्ट क्षेत्र से स्थापित होने वाले गांव ,सटे हुये गांव और बफर क्षेत्र में स्थित गांंवों के युवाओं की भर्ती की जायेंगी। बैठक में अन्य योजनाओ पर भी चर्चा की गयी वन मंत्री ने अधिकारियों को निर्देशित किया की पर्यावरण को बचाये रखने के लिये अच्छे पेड लगाये जाने चाहिये तथा इस वर्ष अधिक से अधिक प्लान्टेशन कार्य करवाया जाना चाहिये । उन्होने यह भी निर्देश दिये की बरगद, पिपल एवं खेजडी के अधिक से अधिक पौधे रोपित किये जाने चाहिये, इसके अलावा झुलीफलोरा एवं गाजर घास को नष्ट करवाने के लिये पूर्ण प्रयास किये जाने चाहिये।
Share on Google Plus

About Eye Tech News

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.
    Blogger Comment
    Facebook Comment