मीडिया ने सिंहस्थ के सकारात्मक पहलुओं को देश-दुनिया के समक्ष रख्रा है- श्री चौहान सिंहस्थ की सफलता पर प्रसन्नचित होकर पत्रकारों की बीच पहुंचे मुख्यमंत्री ने सिंहस्थ की सफलता पर मीडिया का जताया आभार

उज्जैन  मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान आज मीडिया प्रतिनिधियों से मिले एवं मीडिया का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि उज्जैन के मीडिया ने सिंहस्थ के सकारात्मक पहलुओं को देश व दुनिया के समक्ष रखा है। दुनिया भर में सिंहस्थ की चर्चा हुई है, यही कारण है कि सभी के सहयोग से उज्जैन में सिंहस्थ का अद्भूत व अतुलनीय आयोजन सफलता पूर्वक संपन्न हो सका है। समाज के सभी वर्गो, धर्मो के लोगों, स्वयंसेवी संस्थाओं और उज्जैनवासियों ने इस महापर्व के आयोजन में दिल खोलकर मदद की है। मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने रविवार 22 मई को उज्जैन में

सिंहस्थ के सफल आयोजन में सक्रिय भागीदारी निभाने पर उज्जैन के संचार प्रतिनिधियों को धन्यवाद दिया। इस मौके पर प्रभारी मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह, स्कूल शिक्षा मंत्री श्री पारस जैन, सिंहस्थ केन्द्रीय समिति के अध्यक्ष श्री माखनसिंह चौहान, सिंहस्थ मेला प्राधिकरण अध्यक्ष श्री दिवाकर नातू, उज्जैन विकास प्राधिकरण अध्यक्ष श्री जगदीश अग्रवाल, महापौर श्रीमती मीना जूनवाल, सांसद डॉ. चिंतामणी मालवीय, विधायक डॉ.मोहन यादव, श्री सतीष मालवीय व श्री अनिल फिरोजिया, प्रमुख सचिव जनसंपर्क श्री एस.के. मिश्रा, आयुक्त जनसंपर्क श्री अनुपम राजन भी विशेष रूप से उपस्थित थे। जनसंपर्क विभाग मध्यप्रदेश शासन द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा कि, सभी के सक्रिय सहयोग से यह महा आयोजन सफल रहा है। यह आयोजन उज्जैन का, देश व प्रदेश का आयोजन था। भगवान महाकाल की भी इस महाआयोजन की सफलता में विशेष कृपा रही है। मीडिया ने भी इस महापर्व की सफलता में सकारात्मक व सक्रिय सहयोग दिया है। यहां के नागरिकों, साधु-सन्तों, सफाई कामगारों, होमगार्ड, पुलिस,

स्वयंसेवकों, एनएसएस, स्काउट गाईड, एनसीसी, सभी अधिकारी कर्मचारियों ने भी सिंहस्थ की सफलता में सक्रिय योगदान दिया है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अखाडों ने भी शैव व वैष्णव अखाडों का स्नान एक ही समय में करने का निर्णय लेकर सिंहस्थ में इतिहास रचा है मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि शासन व प्रशासन पिछले चार सालों से सिंहस्थ की तैयारियों में जुटा हुआ था। इस महापर्व का इतना सुन्दर व सुखद समापन देखकर मुझे लगता है कि मानव जीवन सफल व सार्थक हो गया।
उन्होंने कहा कि आंधी-तूफान की घटना के बाद आस्था और श्रद्धा का जनसैलाव उमड पडा, वह अकल्पनीय है। अंतिम शाही स्नान के दिन लगभग 1.50 करोड से अधिक लोगों ने स्नान कर इस आयोजन को सफलता के शीर्ष पर पहुंचा दिया। साधु-सन्तों ने भी धैर्य रखा। उन्होंने कहा कि सिंहस्थ में कर्म मार्ग, भक्ति मार्ग एवं ज्ञान मार्ग की अविरल धारा फूट पडी। मुख्यमंत्री ने कहा कि वे 29 मई को
महाकाल मंदिर से पैदल यात्रा कर उज्जैन वासियों का आभार व्यक्त करने आएंगे। इस दिन वे शिप्रा तट पर सभा कर जनता को नई सौगात शहर को सौपेंगे। उन्होंने कहा कि उनका बार-बार उज्जैन आने का मन करता है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सिंहस्थ मेला क्षेत्र में अधिग्रहित खेतों को वापस जैसे थे, वैसे ही तैयार कर किसानों को आगामी बोवनी के पूर्व उपलब्ध कराये जाएंगे। उन्होंने कहा कि सिंहस्थ में हुए विकास कार्यो के कारण उज्जैन पर्यटन का बहुत बडा केन्द्र बनकर उभरेगा। स्वच्छता, पवित्रता की दृष्टि से उज्जैन को नई पहचान मिलेगी।
पत्रकारों के साथ भोजन ग्रहण किया मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने रविवार को उज्जैन पहुंचकर
सिंहस्थ के सकारात्मक पहलूओं को देश और दुनिया के सामने रखने वाले स्थानीय पत्रकारों की सराहना करते हुए सिंहस्थ की सफलता में उनकी भूमिका के लिए धन्यवाद देते हुए आभार व्यक्त किया। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर आयोजित सहभोज में शामिल होकर पत्रकारगणों के साथ सहभोज भी किया। इसके उपरान्त पत्रकारों व संचार प्रतिनिधियों को शासन की ओर स्मृति चिन्ह भेंट किये गये।  मुख्यमंत्री श्री चौहान एवं अतिथियों ने पत्रकार श्री विवेक चौरसिया द्वारा लिखित ग्रन्थ कुंभनामा का विमोचन किया। प्रेस क्लब अध्यक्ष श्री विशाल हाडा ने शाल व श्रीफल भेंट कर मुख्यमंत्री श्री चौहान व आयुक्त जनसंपर्क का अभिनंदन किया। मुख्यमंत्री ने प्रेस क्लब अध्यक्ष श्री हाडा व पत्रकार श्री निरूक्त भार्गव को पुष्पहार पहनाकर कर स्वागत किया। कार्यक्रम का संचालन अपर संचालक जनसंपर्क उज्जैन श्री देवेन्द्र जोशी ने किया तथा आयुक्त जनसंपर्क श्री अनुपम राजन ने आभार व्यक्त किया। इस मौके पर संभागायुक्त डॉ.रवीन्द्र पस्तोर, एडीजीपी श्री व्ही.मधुकुमार, डीआईजी श्री राकेश गुप्ता, कलेक्टर श्री कवीन्द्र कियावत, एसपी श्री मनोहर सिंह वर्मा सहित अन्य अधिकारी भी उपस्थित थें।
Share on Google Plus

About Eye Tech News

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.
    Blogger Comment
    Facebook Comment