जिला आंचलिक पत्रकार संघ का सम्मेलन सम्मपन

सूचना क्रांति के बाद भी आम आदमी की समस्या हल नहीं : सिंह

रतलाम। मध्यप्रदेश आंचलिक पत्रकार संघ का जिला सम्मेलन प्रेस क्लब भवन पर आयोजित किया गया। इस सम्मेलन में नीमच, मंदसौर, झाबुआ, लखनऊ, दिल्ली के पत्रकारों ने भी भाग लिया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि माखनलाल चतुर्वेदी पत्रकार विश्व विद्यालय के माध्यम निदेशक पुष्पेन्द्रपालसिंह (भोपाल) थे। कार्यक्रम के प्रारंभ में मां सरस्वती को माल्यार्पण किया गया तथा सम्मेलन में आएं अतिथियों का स्वागत किया गया। 
मुख्य अतिथि पुष्पेन्द्रपालसिंह ने कहा कि सूचना क्रांति का दौर चल रहा है इस पर करोड़ों सूचनाएं प्रतिदिन आती है लेकिन हमें उन सूचनाओं में से अपने काम की सूचना ढूंढना होगी। आज खबरों की दुनिया काफी सिमट चुकी है पल भर में दुनिया भर में खबरें चल जाती है। लेकिन आंचलिक पत्रकारों को अपने क्षेत्र से जुड़ी आम लोगों की समस्याओं जमीन व खेत से जुड़े किसानों की समस्याओं से संबंधित समाचार अधिक से अधिक देकर आम आदमी की बेहतरी के लिए काम करना चाहिए और यह काम आंचलिक पत्रकार कर रहे है। यह धारणा गलत है कि दिल्ली और भोपाल के पत्रकार मुख्य धारा से जुड़े हुए है। पत्रकार पत्रकार होता है चाहे वह शहर में पत्रकारिता करता हो चाहें गांव में। 
कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे मप्र आंचलिक पत्रकार संघ के उपाध्यक्ष नूर मोहम्मद नूर (गुना) ने कहा कि रतलाम का इतिहास सदैव जुझारु रहा है। रतलाम के संस्थापक राजा ने भी हाथियों के साथ युद्ध कर रतलाम की जमीन को प्राप्त किया था। मालवा की पत्रकारिता में रतलाम का नाम गौरव से लिया जाता है। नीमच से आए आंचलिक पत्रकार संघ के जिलाध्यक्ष मोतीलाल पी. शर्मा, चंद्रकांत मेहता नीमच, सुरेन्द्र सेठी नीमच ने भी संबोधित किया। 
सम्मेलन में कार्यक्रम के विशेष अतिथि पर्यावरण डायजेस्ट के संपादक खुशालसिंह पुरोहित ने कहा कि स्वतंत्रता संग्र्राम के दौरान देश की पहली महिला पत्रकार हेमंत कुमारी चौधरी रतलाम की ही बहु थी। जिन्होंने पहली हिन्दी महिला पत्रकार होने का गौरव प्राप्त किया है। इसके ठीक 100 साल बाद रतलाम से पहली पर्यावरण पुस्तिका प्रकाशित हुई है। रतलाम प्रेस क्लब के अध्यक्ष सुरेन्द्र जैन ने कहा कि पत्रकारों को अपनी कलम की धार पैनी करना होगी जहां तक पत्रकारों की सुरक्षा का प्रश्न है पत्रकार को अपनी कलम के माध्यम से इतना शक्तिशाली बन जाना चाहिए कि उसे सुरक्षा के लिए दूसरों पर निर्भर नहीं रहना पड़े। 
कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे प्रदेश के कार्यकारिणी अध्यक्ष रमेश टांक ने कहा कि पत्रकारों की शक्ति उनके संगठन में है। आंचलिक पत्रकार संघ में ग्र्रामीण अंचलों में काम कर रहे पत्रकारों की समस्याओं को त्वरित निपटारा करने का काम किया है। प्रितम नगर के ब्लाक अध्यक्ष मनोज जैन ने भी पत्रकारों की समस्याओं पर प्रकाश डाला तथा जिलाध्यक्ष रमेश पाठक ने अतिथियों का स्वागत भाषण दिया। 
कार्यक्रम के दौरान युवा पत्रकारों को कलमवीर पुरस्कार से पुरस्कृत किया गया जिनमें नरेन्द्र जोशी (नई दुनिया), के.के. शर्मा (नई दुनिया), असीमराज पांडे (नई दुनिया), जलज शर्मा (नई दुनिया), जितेन्द्रसिंह सोलंकी (पिपुल समाचार), सौरभ पाठक (पत्रिका), सौरभ कोठारी (राज एक्सप्रेस), विजय मीणा (सहारा समय), मुकेश गोस्वामी (दबंग दुनिया), देवकीनंदन पंचौली (दबंग दुनिया), राजकुमार चावड़ा (पत्रिका-बड़ावदा), अदिति मिश्रा (दबंग दुनिया), विनय निगम (आलोट), योगेश निगम (आलोट), जगदीश बैरागी (नई दुनिया-सरवन), राजेन्द्र केलवा (अंबर), प्रदीप नागोरा (फोटोग्र्राफर), दुर्गेश पंवार (फोटोग्र्राफर), शुभ दशोत्तर (फोटोग्र्राफर) प्रमुख है। कार्यक्रम का संचालन मुकेशपुरी गोस्वामी तथा आभार प्रदर्शन पिपलौदा ब्लाक के अध्यक्ष अनवर कादरी ने किया।
इस अवसर पर पत्रकार सुरेन्द्र छाजेड़, वीरेन्द्र हितिया, रमेश सोनी, लखनराजसिंह चंद्रावत चित्तौडग़ढ़, मदन परिहार जिले भर के आंचलिक पत्रकार संघ पदाधिकारी एवं सदस्यगण उपस्थित थे।
Share on Google Plus

About Eye Tech News

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.
    Blogger Comment
    Facebook Comment