अगली जनसुनवाई नये स्वरूप में होगी आवेदन की स्थिति को लेकर ऑटोमैटिक मैसेज किया जायेगा कलेक्टर श्री भोंडवे ने नये स्वरूप में जनसुनवाई करने के दिये निर्देश

उज्जैन। प्रति मंगलवार को होने वाली जनसुनवाई शीघ्र ही नये स्वरूप में होने जा रही है। नवागत कलेक्टर श्री संकेत भोंडवे ने आज मंगलवार की जनसुनवाई में यह निर्णय लिया कि आवेदन करने वाले व्यक्ति को परेशान न होना पड़े, इसके लिये उसे उसके आवेदन की वस्तुस्थिति के बारे में मोबाइल पर सम्बन्धित विभाग द्वारा एसएमएस के माध्यम से अवगत कराया जायेगा। पहली जनसुनवाई में श्री भोंडवे ने परम्परागत रूप से होने वाली जनसुनवाई में बदलाव करने का निर्णय लिया है। बदलाव करने सम्बन्धी निर्देश सम्बन्धित अधिकारी डिप्टी कलेक्टर श्री अभिषेक दुबे को दिये। वर्तमान में आवेदन करने वाले व्यक्ति आवेदन लिखवाने के लिये यहां-वहां प्रयास करते रहते हैं, इन प्रयासों में कई बार आवेदक की वास्तविक समस्या नहीं आ पाती है और न ही सम्बन्धित विभाग तक पहुंच पाती है, इसके लिये कलेक्टर ने तय किया है कि अब बृहस्पति भवन में ही लेखन कला में दक्ष व्यक्ति को आवेदन लिखने के लिये रखा जायेगा।
मंगलवार को बृहस्पति भवन में आयोजित हुई जनसुनवाई में 60 आवेदनों की जनसुनवाई सम्पन्न हुई। जनसुनवाई के दौरान प्राप्त आवेदनों पर त्वरित निराकरण करने के निर्देश सम्बन्धित विभागों को दिये गये।
मामले की जांच करें
जनसुनवाई में ग्राम केसूनी के यशवंतसिंह, जगदीशचन्द्र, सोहनसिंह, बद्रीलाल, गणपत, दिनेश एवं नरेन्द्र जाट किसान आवेदकों ने अवगत कराया कि गत मानसून में उनकी सोयाबीन की फसल नष्ट हो गई थी, जिसकी शिकायत पूर्व में दो बार जनसुनवाई में भी की गई थी। कलेक्टर ने संज्ञान लेते हुए एसडीएम श्री क्षितिज शर्मा को मामले की जांच कर वस्तुस्थिति जानकर निराकरण करने के निर्देश दिये।
वर्षा से हुए नुकसान में दी जायेगी राहत
जनसुनवाई में कई आवेदन ऐसे आये जिनमें हाल ही में हुई अतिवृष्टि से मकानों को नुकसान पहुंचा है। ऐसे सभी आवेदनों पर कलेक्टर द्वारा एसडीएम या तहसीलदार को निर्देश जारी किये गये हैं कि मौके पर जाकर मुआयना करते हुए नुकसानी का आंकलन करें। गरीब व्यक्तियों को राहत देने के लिये इन मामलों में प्रकरण संवेदनशीलता के साथ तैयार करके राहत राशि उपलब्ध कराई जाये। ग्राम सायरखेड़ी की सजनबाई ने भी इसी प्रकार का आवेदन दिया, जिसमें तहसीलदार उज्जैन को कलेक्टर द्वारा निर्देश जारी किये गये।
नीलगंगा क्षेत्र की रानीबाई द्वारा उसके मकान से ठेकेदार द्वारा बेदखल किये जाने की शिकायत की गई। कलेक्टर ने इस सम्बन्ध में माधव नगर थाना प्रभारी को तत्काल कार्यवाही करने के निर्देश दिये। जनसुनवाई में बरथून की जसोदाबाई द्वारा उसकी भूमि पर पड़ोसी किसान द्वारा कब्जा किये जाने व धौंस देने की शिकायत की गई। महिदपुर क्षेत्र की जतनबाई ने गरीबी का हवाला देते हुए आवास नहीं मिलने की शिकायत की। इन मामलों में भी कलेक्टर ने सम्बन्धित अधिकारियों को तत्काल कार्यवाही के निर्देश दिये।
नागझिरी की मैनाबाई के प्रकरण में भरण-पोषण अधिनियम के तहत कार्यवाही के निर्देश
उज्जैन के नागझिरी की रहने वाली मैनाबाई ने आवेदन में कहा कि उसके छोटे बेटे ने मकान पर लोन लेने की कार्यवाही की है और उसके खाने-पीने व अन्य सुविधाओं का भी ख्याल नहीं रख रहा है। कलेक्टर ने इस प्रकरण में एसडीएम उज्जैन को निर्देश दिये कि शासन के भरण-पोषण अधिनियम के तहत तत्काल कार्यवाही सुनिश्चित करें। जनसुनवाई में महिदपुर तहसीलदार द्वारा एक मामले में कार्यवाही नहीं करने की शिकायत आई। लसुड़िया के शंकरलाल ने आवेदन में कहा कि उसकी पैतृक भूमि पर पड़ोसी किसान द्वारा अवैध कब्जा कर लिया गया है। तहसील महिदपुर द्वारा इस सम्बन्ध में शिकायत की जाने पर भी कार्यवाही नहीं की जा रही है। कलेक्टर ने तहसीलदार महिदपुर को मामले में सख्ती से कार्यवाही करने और फीडबेक देने के निर्देश दिये। उज्जैन के महाराजवाड़ा की जाहिदा द्वारा उसके स्वामित्व की भूमि पर पड़ोसी महिला द्वारा कब्जा करने व निर्माण तथा धमकी देने की शिकायत आवेदन में की गई। इस प्रकरण में कलेक्टर ने सीधे नगर निगम के झोन अधिकारी श्री प्रेम शर्मा को मौके पर जाकर कार्यवाही के निर्देश दिये।
Share on Google Plus

About Eye Tech News

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.
    Blogger Comment
    Facebook Comment