शासकीय स्कूलों में शिक्षा का स्तर ऊंचा उठा है -ऊर्जा मंत्री श्री जैन । छात्र पूरी ऊर्जा के साथ पढ़ाई कर अपना भविष्य उज्ज्वल बनायें -सांसद डॉ.मालवीय । विकास खण्ड स्तरीय नि:शुल्क सायकल वितरण कार्यक्रम में छात्रों को सायकल वितरित


उज्जैन। स्कूल शिक्षा विभाग की महत्वपूर्ण नि:शुल्क सायकल प्रदाय योजना के अन्तर्गत शासकीय उत्कृष्ट उमावि माधव नगर स्कूल परिसर में विकास खण्ड स्तरीय नि:शुल्क सायकल वितरण समारोह शनिवार 19 नवम्बर को आयोजित किया गया। समारोह के मुख्य अतिथि ऊर्जा मंत्री श्री पारस जैन थे और कार्यक्रम की अध्यक्षता सांसद डॉ.चिन्तामणि मालवीय ने की। इस अवसर पर ऊर्जा मंत्री श्री जैन ने कहा कि बच्चे भविष्य के निर्माता हैं। राज्य शासन ने शिक्षा के स्तर में जितना सुधार करने का काम किया है, उतना पहले कभी नहीं हुआ है। शिक्षा की गुणवत्ता के लिये राज्य सरकार नित नई योजनाएं लागू कर रही है। शासकीय शालाओं में शिक्षा का स्तर ऊंचा उठा है। प्रायवेट शालाओं से अब शासकीय शालाओं में बेहतर परिणाम आ रहे हैं और छात्र-छात्राएं मेरिट में आकर शाला का नाम ऊंचा कर रहे हैं।

ऊर्जा मंत्री श्री जैन ने कहा कि राज्य सरकार छात्रों को नि:शुल्क गणवेश पुस्तकें, सायकल, लेपटॉप, मध्याह्न भोजन आदि की सुविधाएं मुहैया करा रही है। छात्र लगन एवं कड़ी मेहनत कर अच्छे अंकों से उत्तीर्ण होकर अपनी शाला और अपना नाम रोशन करें। साथ ही उन्होंने कहा कि भारत सरकार का स्वच्छ भारत मिशन के सपने को साकार करने में पूरजोर सहयोग प्रदान करें। अपने घर, मोहल्ला, शाला, प्रदेश, देश स्वच्छ रखने में अपना योगदान दें। उन्होंने अवगत कराया कि चारधाम मन्दिर के समीप नूतन स्कूल के पीछे करोड़ों रूपये की लागत से जिमनेशियम का निर्माण हो रहा है। इसके बन जाने से छात्र उसका अवश्य लाभ उठायें। राज्य शासन ने 5वी एवं 8वी की बोर्ड की परीक्षा करवाने की घोषणा की है, ताकि शिक्षा का स्तर और बेहतर हो सके। उन्होंने छात्रों से कहा कि वह अपनी सम्पूर्ण पढ़ाई के बाद किसी भी क्षेत्र में जायें, पूर्ण लगन से समाजसेवा का कार्य करें।
सांसद डॉ.चिन्तामणि मालवीय ने इस अवसर पर कहा कि पिछले 11 वर्षों में प्रदेश में शिक्षा के क्षेत्र में काफी सुधार हुआ है। आज वर्तमान में उत्कृष्ट विद्यालयों में प्रवेश के लिये प्रतियोगिता बढ़ गई है। राज्य शासन ने शाला छोड़ चुके छात्रों को पुन: शाला में प्रवेश दिलवाने का अभियान चलाकर शिक्षा मुहैया कराई जा रही है। शासन की मंशा है कि प्रत्येक बेटा-बेटी शिक्षा ग्रहण करे। पढ़ाई से छात्रों में एक पैनी धार और तेजस्व आता है, इसलिये छात्र-छात्राएं अपनी क्षमता और पूरी ऊर्जा के साथ मन लगाकर पढ़ाई करें और अपने भविष्य को उज्ज्वल बनायें। जिला पंचायत उपाध्यक्ष श्री भरत पोरवाल, क्षेत्रीय पार्षद श्रीमती दुर्गा शक्तिसिंह चौधरी ने भी अपने विचार व्यक्त कर छात्र-छात्राओं से कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में दिये जाने वाले लाभ को अर्जित करें और पूर्ण ईमानदारी के साथ पढ़ाई कर अच्छे अंकों से उत्तीर्ण हों।
जिला शिक्षा अधिकारी श्री संजय गोयल ने स्वागत भाषण देते हुए कार्यक्रम की विस्तृत जानकारी दी और कहा कि उज्जैन जिले में छात्र-छात्राओं को नौ हजार नि:शुल्क सायकल वितरण की जायेगी। इसके लिये विकास खण्डवार वृहद पैमाने पर कार्यक्रम आयोजित कर जनप्रतिनिधियों के हस्ते सायकल वितरण की जा रही है। इसी कड़ी में आज शनिवार 19 नवम्बर को उज्जैन विकास खण्ड का कार्यक्रम शासकीय उत्कृष्ट उमावि माधव नगर में आयोजित कर विकास खण्ड में 1400 सायकल वितरण की जायेगी। कार्यक्रम में प्रतीकस्वरूप अतिथियों के हस्ते उत्कृष्ट विद्यालय की कु.लक्ष्मी सूर्यवंशी, श्री कुलदीप पाटीदार, माध्यमिक विद्यालय हामूखेड़ी की कु.नेहा, माध्यमिक विद्यालय गांवड़ी की कु.किरण एवं विकास को नि:शुल्क सायकल दी गई। जिला शिक्षा अधिकारी ने कहा कि नि:शुल्क सायकल प्रदाय योजना के अन्तर्गत ग्रामीण क्षेत्र के कक्षा 9वी में अध्ययनरत सभी प्रवर्ग के ऐसे बालक-बालिकाएं योजना से लाभान्वित होंगे, जिनके गांव में शासकीय हाईस्कूल स्थापित नहीं हैं तथा वे एक गांव से दूसरे गांव, शहर में शासकीय हाईस्कूल में अध्ययन के लिये आते हैं, उन छात्रों को योजना के अन्तर्गत नि:शुल्क सायकल वितरित की जाती है।
कार्यक्रम के प्रारम्भ में शाला के प्राचार्य श्री भरत व्यास ने भी अपने विचार व्यक्त किये। कार्यक्रम के पूर्व अतिथियों के द्वारा मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण कर चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। कार्यक्रम के अन्त में ऊर्जा मंत्री श्री पारस जैन ने विश्व शौचालय दिवस के उपलक्ष्य में उपस्थितों को शपथ दिलवाई कि “हम शपथपूर्वक निश्चय करते हैं कि अपने शहर को स्वच्छ और साफ-सुथरा रखने में निरन्तर सहयोग करते रहेंगे। कचरा सड़कों और गटरों में न फैंकते हुए डस्टबिन का उपयोग करेंगे और डोर टू डोर कचरा कलेक्शन हेतु निर्धारित वाहन में ही डालेंगे। प्रतिबंधित पॉलीथीन का उपयोग नहीं करेंगे। खुले में शौच नहीं जायेंगे और सुविधाघर का उपयोग करेंगे। हम निश्चित करते हैं कि स्वच्छ भारत मिशन और क्लीन सिटी-स्मार्ट सिटी उज्जैन को साकार करने में हरसंभव सहयोग करते रहेंगे।“ कार्यक्रम का संचालन श्री योगेश कोठारी ने किया।
Share on Google Plus

About Eye Tech News

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.
    Blogger Comment
    Facebook Comment