पुरस्कार राशि में बढ़ोत्री होने पर विद्यार्थियों में खुशी की लहर । नृत्य नाटिकाओं की प्रस्तुतियों की सराहना । ऊर्जा मंत्री श्री पारस जैन के मुख्य आतिथ्य में राज्य स्तरीय सप्तदश शालेय कालिदास समारोह का रंगारंग प्रस्तुतियों के साथ समापन


उज्जैन। स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित राज्य स्तरीय सप्तदश शालेय कालिदास समारोह का आयोजन 22 नवम्बर से 24 नवम्बर तक किया गया। समारोह का समापन महाकाल प्रवचन हॉल में गुरूवार 24 नवम्बर को दोपहर 2 बजे ऊर्जा मंत्री श्री पारस जैन के मुख्य आतिथ्य में हुआ। प्रदेश के दूर-दराज से आये कनिष्ट वर्ग एवं वरिष्ठ वर्ग के प्रतिभागियों ने विभिन्न विधाओं में भागीदारी की। अतिथियों के
द्वारा प्रतिभागियों के प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय आने पर उन्हें पुरस्कृत किया गया। ऊर्जा मंत्री श्री जैन ने कहा कि पुरस्कार राशि में बढ़ोत्री होने पर विद्यार्थियों में खुशी की लहर है। श्री जैन ने अवगत कराया कि उनके शिक्षा मंत्री रहते प्रतियोगिता में प्रथम आने पर 15 हजार, द्वितीय आने पर 10 हजार और तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभागियों को 05 हजार रूपये की राशि उनके खातों में जमा कराई जाती है। उन्होंने नृत्य नाटिका की श्रेष्ठ प्रस्तुतियां देने पर कलाकारों की सराहना की। नृत्य नाटिका की प्रस्तुति में भाव-भंगीमाओं से ऐसा लगा कि प्रतिभागियों ने कड़ी मेहनत की है। प्रतिभागियों को सिखाने में उनके गुरूओं की भूमिका की मंत्री श्री जैन ने भूरि-भूरि प्रशंसा की।
कार्यक्रम के प्रारम्भ में ऊर्जा मंत्री श्री जैन एवं महर्षि पाणिनी संस्कृत एवं वैदिक विश्वविद्यालय उज्जैन के कुलपति प्रो.रमेशचंद्र पंडा तथा विश्वविद्यालय अध्यापन विभाग महर्षि पाणिनी संस्कृत एवं वैदिक विश्वविद्यालय के विभागाध्यक्ष डॉ.तुलसीदास परोहा ने मां सरस्वती एवं कालिदास के चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलन कर पुष्प अर्पित किये। जबलपुर संभाग के कनिष्ट एवं वरिष्ठ वर्ग के द्वारा नृत्य नाटिका महाकवि कालिदास के कुमारसंभव आदि पर प्रस्तुतियां प्रस्तुत की गई। तत्पश्चात भोपाल संभाग के कनिष्ट वर्ग के प्रतिभागियों ने भी नृत्य नाटिका की प्रस्तुति दी। इसके पूर्व प्रतिकल्पा संस्था की कु.प्रतिभा रघुवंशी के मार्गदर्शन में कु.अनन्या गौड़ एवं कु.अवनि शुक्ला ने रंगारंग मनोहारी नृत्य नाटिका की प्रस्तुति दी। कार्यक्रम के प्रारम्भ में शासकीय उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय माधव नगर के छात्र-छात्राओं द्वारा सामूहिक स्वागत गीत एवं मध्य प्रदेश गान प्रस्तुत किया गया।
अतिथियों के द्वारा कनिष्ट वर्ग में प्रथम जबलपुर संभाग और द्वितीय वरिष्ठ वर्ग में भी जबलपुर संभाग के प्रतिभागियों के आने पर पुरस्कार वितरण किये। उल्लेखनीय है कि 22 नवम्बर को कनिष्ट वर्ग में नृत्य नाटिका, 23 नवम्बर को कनिष्ट व वरिष्ठ वर्ग में श्लोकपाठ, वरिष्ठ वर्ग में नृत्य नाटिका, कनिष्ट व वरिष्ठ वर्ग में चित्रांकन तथा 24 नवम्बर को वरिष्ठ वर्ग में नृत्य नाटिकाओं की प्रतियोगिताएं आयोजित की गई। कार्यक्रम में कुलपति प्रो.रमेशचंद्र पंडा एवं सारस्वत अतिथि डॉ.तुलसीदास परोहा ने अपने महत्वपूर्ण विचार व्यक्त कर प्रतिभागियों की सराहना की। इस अवसर पर शिक्षा विभाग के संयुक्त संचालक श्री अरविंद सिंह, जिला शिक्षा अधिकारी श्री संजय गोयल, उप संचालक सुश्री रमा नाहटे, श्री एसआर अचाले आदि उपस्थित थे। कार्यक्रम में अतिथियों के द्वारा शिक्षा विभाग द्वारा विद्यार्थियों हेतु महाकवि कालिदास की रचनाओं पर आधारित प्रतियोगिताओं का आयोजन करने के साथ ही प्रतियोगिताओं पर आधारित स्मारिका ‘विशाला’ का विमोचन किया।
Share on Google Plus

About Eye Tech News

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.
    Blogger Comment
    Facebook Comment