रक्षाअनुदानों पर चर्चा के दौरान संसद में बोले बिरला, रक्षा आधुनिकीकरण पर हो जोर

सांसद श्री ओम बिरला ने देश की संसद में चल रहे रक्षा अनुदानों पर हो रही  बहस में हिस्सा लिया द्यउन्होंने बहस में हिस्सा लेते हुए कहा कि जो देश अपनी रक्षा करने में स्वय समर्थ नहीं होतेए उनकी आजादी अधिक दिन तक नहीं टिक सकती । अतरू हर संप्रभु  देश के लिए अपनी सुरक्षा व्यवस्था को भली.भाँति कायम रखना अनिवार्य है उन्होंने कहा कि देश की बहादुर सेना ही है जिसकी वजह से हम पूरी ताकत से दुशमन देशों के  नापाक हमलों का पुरजोर जवाब देते आये हैं द्यउन्होंने ये भी कहा कि फौज़ी इस देश की शान हैए मान हैए और हमारा अभिमान है । देश सेवा के लिए फौजी हमेशा तत्पर रहते हैं।
सर्जिकल स्ट्राइक पर सबूत मांगनेवाले दलों पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि दुर्भाग्य से अब कुछ दल अपनी सेक्युलर छवि चमकाने एवंअपनी राजनितिक स्वार्थों की पूर्ति हेतु सेना को बदनाम करने लगे हैं कोई सर्जिकल स्ट्राइक का सबूत मांग लेता है तो कोई सेना प्रमुख के बयान पर आपत्ति जताता है। उन्होंने विपक्ष को कौरव दल घोषित करते हुए कहा कि पता नहीं  ये कब समझेगें की राष्ट्र की सुरक्षा पर राजनीति से बाज आना चाहिए उन्होंने विपक्ष से आह्वान भी किया की ऐसे इल्जाम मत लगाओ हमारी सेना पर जो बहादुर जवानों का मान घटायें ए ये वो लोग हैं जो सर कटा सकते हैं मगर माँ भारती के दामन पर कोई दाग नहीं लगने देंगे। 
प्रधानमंत्री की तारीफ करते हुए श्री बिरला ने स्पस्ट कर दिया की ये सरकार जवानों केहितों की रक्षा करने वाली सरकार है वन रैंक वन पेंशन को लागू करने के लिए भी उन्होंने सरकार की तारीफ की उन्होंने कहा कि इस बार के रक्षा बजट में 10 प्रतिशत से भी ज्‍यादा बढ़ोतरी कर भारत सरकार ने स्‍पष्‍ट कर दिया है कि सरहदों की सुरक्षा में किसी भी प्रकार की कोताही नहीं बरती जाएगी।
श्री बिरला ने देश की रक्षा को मजबूत करने के लिए कुछ मांगे भी रखी द्य उन्होंने कहा की मेक इन इंडिया कार्यक्रम के तहत रक्षा क्षेत्र में बड़े पैमाने पेविदेशी निवेश आकर्षित करने की जरुरत है उन्होंने ये भी कहा कि हमें अनुसंधान विकास तथा नवीनतम विनिर्माण क्षमताओं पर ज्‍यादा ध्‍यान देना होगा।
चर्चा में आगे भाग लेते हुए श्री बिरला ने कहा कि रक्षा आधुनिकीकरण तथा स्वदेशीकरण के अलावा भारत को  रडार से बचने वाली स्टील्थ प्रणालियोंए मानव रहित प्रणालियोंए उपग्रह से निगरानी तथा साइबर.युद्ध पर ध्यान देना होगा। देश में स्वदेशी रक्षा प्रौद्योगिकी को बड़े पैमाने पर विकसित करने की जरुरत है और इस दिशा में जो भी समस्याएं है उन्हें सरकार द्वारा अबिलम्ब दूर करना आवश्यक है 
सेना के जवानों पर पत्थर बरसाए जाने की घटना पर श्री बिरला ने कहा की ऐसी कार्ययोजना बनायीं जाये जो हमारे जवानों को किसी भी प्रकार की क्षति से बचाए द्यआतंकवादियों से मुठभेड़के दौरान सेना के जवानों को बुलेट प्रूफ वर्दी मिले इसे भी सुनिश्चित करने का आह्वान श्री बिरला ने कियाद्यउन्होंनेकहा कि जवानों की शहादत बहुत दुखदायी है एवं राजस्थान समेत देश के कई प्रान्तों से हमारे जवान वीरगति को प्राप्त हुए हैं अतरू यह आवश्यक है की उन्हें सारे जरुरी आधुनिक उपकरण उपलब्ध कराये जाएँ ।
श्री बिरला ने उनलोगों पर भी हमला बोला जो आयेदिन माँ भारती एवं सेना का अपमान करते हैं राष्ट्रकवि दिनकर की पंक्तियों को उधृत करते हुए उन्होंनेकहा की ऐसे लोग कभी सफल नहीं होंगे ।

Share on Google Plus

About Eye Tech News

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.
    Blogger Comment
    Facebook Comment